पंडित की कथा

पत्नी की बातें और पंडित की कथा एक जैसी होती हैं…!
.
समझ भले कुछ न आये पर ध्यान लगाकर सुनने का नाटक ज़रूर करना पड़ता है…!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *