डिप्रेशन दूर करने के (Gharelu Nuskhe)

  • अच्‍छी याददाश्त के लिए
  • याददाश्त और एकाग्रता में

 

Tips:-

 

 

डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट से भी याददाश्त दुरुस्‍त रहती है एवं दिमाग की कार्यक्षमता बढ़ती है। डार्क चॉकलेट में एंटीऑक्‍सीडेंट प्रचुर मात्रा में होते है, जो दिमाग में रक्त संचार को ठीक रखते हैं। अमेरिकन एकेडमी ऑफ न्‍यूरोलॉजी जर्नल में छपी एक रिर्पाट के अनुसार, डार्क चॉकलेट खाने से बढ़ती उम्र में भी दिमाग को ठीक रख पाने में मदद मिलती है। लेकिन इसे सीमित मात्रा में हीं खाना चाहिये ताकी आपका वजन न बढ़ें।

 

पालक

याददाश्त को बनाये रखने के लिए पालक सर्वोत्तम आहार माना जाता है। पालक में विटामिन बी 9 प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिसे फोलेट या फोलिक एसिड के नाम से भी जाना जाता है। इसी विटामिन की कमी के कारण मस्तिष्‍क संबंधी विकार उत्‍पन्‍न होने लगते हैं। इसके अलावा दिमाग के लिए जरूरी और फायदेमंद ओमेगा-3 फैटी एसिड की प्रचुर मात्रा पालक में होती है। इसके सेवन से आपकी याददाश्त, तर्क करने की शक्ति एवं एकाग्रता बढ़ती है।

 

ऑलिव ऑयल

ऑलिव ऑयल में मोनोसेच्युरेटेड फैट्स की पर्याप्त मात्रा होती है, जिनसे रक्त-शिराओं की सक्रियता बढ़ती है। रक्त शिराओं में सक्रियता से याददाश्त बढ़ती है। इसलिए खाना पकाने का अपना तेल बदलें और ऑलिव ऑयल में खाना पकाना शुरू करें।

 

सूरजमुखी के बीज

विटामिन ई और सी की पर्याप्त मात्रा एकाग्रता और स्मरण शक्ति के लिए फायदेमंद होती है। सूरजमुखी के बीज सहित बीज, विटामिन ई के अच्छे स्रोत होते हैं। सूखे भुने हुऐ एक औंस सूरजमुखी के बीज से सिफारिश की गई दैनिक खपत का लगभग 30 प्रतिशत होता है। अपने मस्तिष्क को बढ़ावा देने के लिए अपने सलाद पर इसे छिड़क कर खाये।

 

अखरोट

अखरोट दिखने में दिमाग जैसा ही लगता है। शोध के अनुसार, अखरोट तीन दर्जन से भी अधिक न्यूरॉन ट्रांसमीटर को बनाने में मदद करता है। यह मस्तिष्क प्रक्रिया के लिए बहुत जरूरी होते हैं। साथ ही अखरोट में एंटीऑक्सीडेंट व विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। एंटीऑक्सीडेंट शरीर में मौजूद प्राकृतिक रसायनों को नष्ट होने से रोककर रोगों की रोकथाम करते हैं। इसमें उच्च मात्रा में प्रोटीन मौजूद होता है। रोजाना अखरोट के सेवन से याददाश्त बढ़ती है।

 

एवोकैडो

एवोकैडो, एंटीऑक्सीडेंट विटामिन ई का एक समृद्ध स्रोत है। मॉरिस और उसके सहयोगी द्वारा किऐ गए एक शोध के अनुसार, एवोकैडो सहित विटामिन ई से भरपूर खाद्य पदार्थ, जो एंटीऑक्‍सीडेंट विटामिन सी का भी पॉवरहाऊस है। अल्‍जाइमर के विकास के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

बादाम

याददाश्त बनाये रखने के लिए बादाम को काफी उपयोगी माना जाता है। बादाम में मौजूद पोषक तत्‍व जैसे प्रोटीन, मैगनीज, कॉपर और राइबोफ्लाविन आदि अल्‍जाइमर और अन्‍य मस्तिष्‍क संबंधी रोगों को दूर करने में मदद करते हैं। रात को पांच बादाम भिगोकर रख दें। सुबह उठकर उनका सेवन करने से दिमाग तेज होता है।

 

मछली

मांसाहारी लोगों के लिए मछली का सेवन दिमाग के लिए बहुत ही बढि़या माना जाता है। मछली में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड की मौजूदगी के कारण इसे ब्रेन फूड भी कहा जाता है। मछली याददाश्त और एकाग्रता में बहुत फायदेमंद होती है।

 

जामुन

जामुन भी गुणों से भरपूर होता है, इसमें आपकी स्‍मरण शक्ति को तेज करने की पूरी क्षमता होती है। इसमें मौजूद एंथोसाइनिंस व फीसेटिन जैसे फिटोकेमिकल आपकी याददाश्त को बढ़ाते हैं। इससे आप अपनी पिछली बातों को याद करने में सहायता मिलती है।

 

अंडा

अंडा भी याददाश्त को बनाये रखने और स्‍मरण शक्ति को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है। खासकर इसका पीला हिस्‍सा तो मस्तिष्‍क के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन बी एवं ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो आपके दिमाग को दुरुस्‍त रखता है। इसके अलावा अंडे में लेसीथीन और सेलेनियम आदि भी पाये जाते है जो आपके मस्तिष्‍क की कार्यक्षमता को बढ़ाते हैं।

 

13 total views, 1 views today

Our Reader Score
[Total: 0 Average: 0]

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *